Aarti Kunj Bihari Ki Hindi Lyrics आरती कुंजबिहारी की

आरती कुंजबिहारी की Aarti Kunj Bihari Ki Hindi Lyrics Lyrics – आरती कुंजबिहारी की Aarti Kunj Bihari Ki Hindi Lyrics


Aarti: श्री कृष्ण आरती – आरती कुंजबिहारी की / Krishna Aarti Lyrics
Album: Aarti Volume 5
Singer: Hariharan
Lyrics: Traditional
Music Label: T-Series

आरती कुंजबिहारी की Aarti Kunj Bihari Ki Hindi Lyrics



Lyrics

Aarti Kunj Bihari Ki verses in Hindi (आरती कुंजबिहारी की) is a devout reciting (Krishna Aarti Verses) which is recited to commend Master Krishna. This is Aarti is thought about so strong that no Pooja/Archana is at any point viewed as complete without discussing this aarti. Aarti is sung by Hariharan and delivered under the T-Series music name.

Aarti Kunj Bihari Ki Bhajan Subtleties

Aarti Kunj Bihari Ki Lyrics In Hindi

आरती कुंजबिहारी की

श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंजबिहारी की

श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

गले में बैजंती माला

बजावै मुरली मधुर बाला

श्रवण में कुण्डल झलकाला

नंद के आनंद नंदलाला

गगन सम अंग कांति काली

राधिका चमक रही आली

लतन में ठाढ़े बनमाली

भ्रमर सी अलक

कस्तूरी तिलक

चंद्र सी झलक

ललित छवि श्यामा प्यारी की

श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंजबिहारी की…

कनकमय मोर मुकुट बिलसै

देवता दरसन को तरसैं

गगन सों सुमन रासि बरसै

बजे मुरचंग

मधुर मिरदंग

ग्वालिन संग

अतुल रति गोप कुमारी की

श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की

आरती कुंजबिहारी की…

जहां ते प्रकट भई गंगा

सकल मन हारिणि श्री गंगा

स्मरन ते होत मोह भंगा

बसी शिव सीस

जटा के बीच

हरै अघ कीच

चरन छवि श्रीबनवारी की

श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की

आरती कुंजबिहारी की…

चमकती उज्ज्वल तट रेनू

बज रही वृंदावन बेनू

चहुं दिसि गोपि ग्वाल धेनू

हंसत मृदु मंद

चांदनी चंद

कटत भव फंद

टेर सुन दीन दुखारी की

श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की

आरती कुंजबिहारी की…

आरती कुंजबिहारी की

श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंजबिहारी की

श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

 

 

आरती कुंजबिहारी की Aarti Kunj Bihari Ki Hindi Lyrics Watch Video

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *